पाबंदियों के बीच होगा नववर्ष का स्वागत, जिला प्रशासन ने जारी की गाइडलाइन, देखिए क्या कहते हैं अपर कलेक्टर।

रायगढ़ जिले में बढ़ते कोरोना मरीजों के आंकड़ों ने प्रशासन की चिंता बढ़ा दी है,स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी मीडिया बुलेटिन के अनुसार जिले में लगभग 100 एक्टिव मरीज या तो होम ऐसुलेट है या फिर ऐसुलेशन सेंटर में रह कर उपचार करवा रहे है,इसी बीच जिला कलेक्टर ने नया आदेश जारी किया है जिसके अनुसार धार्मिक सामाजिक व सांस्कृतिक कार्यक्रमो के अलावा नए साल के उपलक्ष्य में होने वाले आयोजनों में निर्धारित क्षमता से 50% लोगो को ही उपस्थित होने की परमिशन दी गई है,किसी भित्रह के आयोजन के पहले सक्षम अधिकारी से अनुमति लेना आवश्यक होगा,इसके साथ ही कोविड सम्बन्धित सभी प्रोटोकाल का पालन करना अनिवार्य है,सार्वजनिक स्थल पर मास्क लगाना जरूरी होगा कोई भी व्यक्ति जो बिना मास्क के नज़र आएगा उसपर कार्यवाही भी की जाएगी,हालांकि जिले में 100% वेक्सिनेशन हो चुका है लेकिन फिर भी यदि एहतियात नही बरती जाएगी तो कोरोना संक्रमण से बचना मुश्किल हो जाएगा,मेडिकल एक्सपर्ट की माने तो टीकाकृत व्यक्ति भी कोविड पोजिटिव हो सकता है लेकिन उसकी स्थित अति गम्भीर नही होगी और वेक्सिनेशन के बाद मृत्यु दर में भी काफी कमी आएगी,वन्ही दूसरी तरफ ओमिक्रोन का खतरा भी काफी बढ़ चुका है।

हालांकि छत्तीसगढ़ में अभी एक भी केस ओमिक्रोन का केस नही है फिर भी एहतियात के तौर पर विदेश या अन्य प्रदेशों से आनेवाले लोगो को स्वास्थ्य विभाग ट्रेस कर रहा है इसके साथ ही पॉजिटिव मरीजों की भी ट्रैवेल हिस्ट्री और कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग की जा रही है,कोविड मरीजों के इलाज के साथ ही उनकी कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग के निर्देश जिला कलेक्टर ने स्वास्थ्य विभाग को टीएल बैठक में दिए है।

 

आर ए कुरुवंशी अपर कलेक्टर रायगढ़

 

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,138FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles