रोजगार, सड़क, सुरक्षा ओर पर्यावरण को लेकर कल सिंघल कंपनी के खिलाफ होगा उग्र आंदोलन।

रोजगार, सड़क, सुरक्षा ओर पर्यावरण को लेकर कल सिंघल कंपनी के खिलाफ होगा उग्र आंदोलन।

सिंघल कम्पनी के खिलाफ कल होगा उग्र आंदोलन-राजेश बेहरा

नही चलेगी अब उद्योगो की मनमानी रोजगार,सड़क,सुरक्षा, और पर्यावरण का रखना होगा ध्यान-कैलाश बेहरा

सिंघल उद्योग के खिलाफ भारतीय जनता युवा मोर्चा के जिला महामंत्री राजेश बेहरा व अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य कैलाश बेहरा ने मोर्चा खोल दिया है। कारण है। बेरोजगारी, प्रदूषण, सुरक्षा में लापरवाही, और सड़क की स्थिति
आज स्थानीय बेरोजगारों में बढ़ोतरी का एक मुख्य कारण उद्योगों द्वारा स्थानीय बेरोजगारों को नजरअंदाज कर बाहरी व्यक्तियों को रोजगार देना है। जबकि स्थानीय लोग जो कार्य हेतु प्रशिक्षित है। उन्हें रोजगार के लिए भटकना पड़ रहा है। इन उद्योगों में एक बड़ा नाम सिंघल एनर्जी प्रबंधन का भी है।


प्रदूषण आज पूरे विश्व की समस्या है और आज जिस प्रकार से तराईमाल छेत्र में प्रदूषण बड़ रहा है। इसमें सिंघल का एक बड़ा महत्वपूर्ण योगदान है।
सेफ्टी के के मामले में प्रबंधन हमेशा से शून्य रहा है। सेफ्टी के कारण कई मजदूरों की जान गई और कई मजदूरों को गंभीर चोट आई है।और इस प्रकार की घटना अक्सर सामने आती रहती है।

#पूर्व में भी दिया गया था ज्ञापन-

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कैलाश बेहरा व सूरज भगत द्वारा दिनांक 27-08-2010 को अनुविभागीय अधिकारी सर को सुरक्षा, सेफ्टी, सड़क,और रोजगार के मामलों को।लेकर ज्ञापन दिया था परंतु ज्ञापन के 2 दिवस के भीतर ही एनर्जी में एक दुर्घटना सामने आई जिसमे मजदूरों को गंभीर चोट आई। घायल मजदूरों से बात करने पर पता चला कि यह घटना भी सेफ्टी में कमी के कारण थी । ज्ञापन के दो दिवस के बाद ही इस प्रकार की घटना साफ साफ सिंघल एनर्जी के लापरवाही को दर्शाता है।

8 सितंबर को होगा उग्र आंदोलन-राजेश बेहरा

भारतीय जनता युवा मोर्चा के जिला महामंत्री राजेश बेहरा का कहना है सिंघल एनर्जी के कारण आज क्षेत्र में प्रदूषण,स्थानीय बेरोजगारी है एवं प्लांट के मजदूर असुरक्षित है।इसके खिलाफ उग्र आंदोलन होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *