वृंदावन में पूजन सामग्री बेचती मिली रायगढ़ की महिला आरक्षक अंजना सहिस, विभाग के अधिकारियों पर प्रताड़ना का आरोप लगाते हुए वापिस आने से किआ इंकार, पढ़िए रायगढ़ से वृंदावन तक की पूरी दास्तान,,,,

राजधानी रायपुर से 9 माह से लापता महिला सिपाही अंजना सहिस वृंदावन में पूजन सामग्री बेचकर अपना दिन गुजारा कर रही थी.

अधिकारियों के शोषण से परेशान होकर वह दिसंबर 2020 में वृंदावन जाने की बात बताई।
गुमशुदगी दर्ज होने के बाद उसकी तलाश में आई राजेंद्र नगर थाना पुलिस ने बुधवार को उसे ढूढ़ लिया पर वह वृंदावन से वापस आने को तैयार नहीं हुई।

राजेंद्र नगर थाना पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार महिला आरक्षक अंजना सहिस की मां ने 21 अगस्त को रायगढ़ में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। रायगढ़ पुलिस ने मामला शून्य में कायम कर रायपुर राजेंद्र नगर थाना पुलिस को भेजा था।

आरक्षक महावीर नगर में किराए के मकान में रहती थी। छत्तीसगढ़ पुलिस वृंदावन में महिला के फोटो के आधार पर उसे खोजती रही अंतत महिला सिपाही बुधवार को  वृंदावन के एक मार्ग पर पूजन सामग्री बेचते हुए मिली। महिला सिपाही रायपुर जाने के लिए तैयार नहीं हुई। जब उसकी मां से बात कराई गई उसके बावजूद भी हो तैयार नहीं हुई। अंतत उसे वृंदावन में ही रहने दिया गया।

इस मामले में तारकेश्वर पटेल अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रायपुर ने बताया कि गुमशुदगी के आधार पर पुलिस ने महिला की तलाश कर ली है। वह वृंदावन में है, पर उसने आने से मना कर दिया है, सहमति पत्र लेने के बाद टीम वापस आ गई है।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,140FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles